घरेलु औषधियां जो आप रोज़मर्रा के खान-पान में इस्तेमाल कर सकते है

Home Remedies

घरेलु औषधियां जो आप रोज़मर्रा के खान-पान में इस्तेमाल कर सकते है

जैसा की आप जानते हैं हमारा हिमाचल औषधियों से भरपूर प्रदेश है यहाँ की वनस्पति औषधियों से भरी पड़ी है वस् जरूरत है तो उनको पहचानने की और उनको अपने रोज़मर्रा की जरूरतों में इस्तेमाल करने की।

आज देश और दुनिआ कोविड़-१९ महामारी के दौर से गुज़र रहा है। जिससे हम सब को बचना है और जीबन में आगे बढ़ना है। इसलिए अपने खान-पान का ध्यान रखें और एक दूसरे से उचित दुरी बनाये रखे। अगर आपको सामने बाले के स्वास्थ्य के बारे में कोई जानकारी न हो या वह थोड़ा बीमार लग रहा हो तो स्वस्थ विभाग की सेफ्टी परामर्श को ध्यान में रखें । पर कभी भी उसको घृणा की नज़रों से न देखो जबकि अगर कोई इस बीमारी से पीड़ित हो भी जाता है तो उसकी इस बीमारी से ठीक होने में उसकी सहायता करें जो भी आप कर सकतें हों.

में आपको कुछ घरेलू औषधियां, जो आपके आस-पास बड़ी आसानी से मिल जाती है या जिनको आप अपने घरों में भी ऊगा सकते हो, की जानकारी आपके साथ सांझा कर रहा हूँ जो आपको अच्छी लगेगी। बैसे तो अक्स्सर लोग इनका इस्तेमाल वर्षों से करते आ रहे है पर इनके जो वैज्ञानिक फायदे है उनका विश्लेषण में आपके साथ सांझा कर रहा हूँ जो इस प्रकार से है –

हरा धनिया

एसिडिटी और गैस की परेशानी होने पर हरे धनिये की चटनी खाएं या इसकी पत्तियों का रस पियें। आजकल गर्मी का मौसम चल रहा है तो चटनी को अपने दोपहर क खाने के साथ खाना आपके पाचन को सही रखेगा।

अजवाइन

अजवाइन के पत्ते खाने से गैस, कब्ज़ और एसिडिटी में राहत मिलती है। अजवाइन को खाने में भी इस्तेमाल किया जा सकता है जो पाचन में उपयोगी होता और स्वाद को भी वढ़ाता है।

तुलसी

रोज़ तुलसी की पत्तियां खाएं – डायबटीज़, कैंसर, इन्फेक्शन और हार्ट डिजीज (हृदय रोग) का खतरा टलता है। बुखार, किडनी स्टोन, लूज़ मोशन में भी कारगर।

पुदीना

पुदीने मैं बिटामिन A काफी होता है। इसे खाने से कफ, उलटी, बुखार लूसे मोशन, सांसो की बदबू और पिंपल्स की परेशानी दूर होती है।
पुदीने को आप चटनी बनाकर या इसके रस का सेवन कर सकते है।

कढ़ी पत्ता

कढ़ी पत्ते में आयरन और एंटीऑक्टीडेंट्स होते है। इसका रोज़ सेबन करने से स्ट्रेस, डायबटीज़ और हार्ट प्रॉब्लम कंट्रोल होती है।

Leave a Reply